#Uttrakhand Silkyara Operation : सुरंग के सर्वेक्षण में बताया हार्ड रॉक, निर्माण में निकला मिट्टी का पहाड़, सर्वे पर सवाल #

- Advertisement -

जिस सिलक्यारा सुरंग में आए मलबे के कारण 41 मजदूर 17 दिन तक कैद रहे, उसकी जियोलॉजिकल रिपोर्ट सवालों के घेरे में आ गई है। सुरंग निर्माण से पूर्व हुए सर्वेक्षण में यहां हार्ड रॉक यानी कठोर चट्टान होने का दावा किया गया था, लेकिन निर्माण शुरू हुआ तो पता चला कि भीतर मिट्टी के पहाड़ हैं।
दरअसल, इस सुरंग का निर्माण वर्ष 2018 में शुरू हुआ था। इससे पहले सुरंग का भूगर्भीय सर्वेक्षण हुआ था। सर्वेक्षण में ये स्पष्ट बताया गया था कि जहां सुरंग का निर्माण होगा, वहां हार्ड रॉक हैं। इनके बीच से सुरंग निर्माण सुरक्षित साबित होगा।

निर्माण से जुड़े इंजीनियर प्रदीप नेगी व सेफ्टी मैनेजर राहुल तिवारी ने बताया कि डीपीआर में शामिल जियो रिपोर्ट में जो दावा किया गया था, निर्माण में वह नजर नहीं आया है। उन्होंने बताया कि सुरंग निर्माण के रास्ते में चट्टानों के बजाए भुरभुरी मिट्टी आ रही है जो सबसे बड़ी चुनौती है। लूज मिट्टी होने के चलते बार-बार मलबा गिर जाता है। इस बार का मलबा भी इसका एक कारण कहा जा सकता है। उन्होंने कहा कि इसके बावजूद सुरंग का निर्माण सुरक्षित तरीके से किया जा रहा है। इतना मलबा आने की भी आशंका नहीं थी।

हादसे से बढ़ गया सुरंग निर्माण का इंतजार.. वैसे तो सिलक्यारा सुरंग का निर्माण कार्य जुलाई 2022 में पूर्ण होना था, लेकिन इसमें विलंब हो रहा था। अब हादसा होने और रेस्क्यू ऑपरेशन लंबा चलने के बाद सुरंग निर्माण का इंतजार और बढ़ गया है। हालांकि कंपनी के अधिकारियों का भरोसा है कि समय रहते इसका निर्माण पूरा कर लिया जाएगा।

- Advertisement -

सुन लो भैजी अर्नाल्ड डिक्स, त्वैण भी यख नचौण
ऑपरेशन सिलक्यारा की सफलता के जश्न में दुनिया के नामी टनल एक्सपर्ट प्रो.अर्नाल्ड डिक्स गढ़वाली गीत पर डांस करने से खुद को नहीं रोक पाए। 41 जिंदगियों को सुरक्षित बाहर निकालने की यह खुशी उन्होंने एसडीआरएफ के जवानों के साथ बांटी। सफलता का यह रोमांच एक ऑस्ट्रेलियन इंजीनियर के लिए उत्तराखंड की बोली, भाषा, गीत, परंपरा में घुल जाने जैसा था।

अर्नाल्ड ने एक्स पर जवानों के साथ अपना यह वीडियो अपलोड किया तो देखते ही देखते यह लाखों लोगों तक पहुंच गया। अपलोड वीडियो में जो दृश्य है वह सिलक्यारा के पास किसी स्थान का है। जहां जमीन पर धराशायी एक बड़े वृक्ष के ऊपर ऑपरेशन सिलक्यारा में शामिल रहे एसडीआरएफ के कुछ जवान खुशी से नाच रहे हैं। उनका एक साथी गाना गा रहा है.. एसडीआरएफ का जवान खुश व्हेयां छन भौत/ सुन लो भैजी अर्नाल्ड डिक्स, त्वण भी यख नचौण।

इसका है कि एसडीआरएफ के जवान बहुत खुश हैं। सुन लो भाई अर्नाल्ड डिक्स, तुम्हें भी यहां नचाना है। इसके बाद वृक्ष के ऊपर अर्नाल्ड डिक्स नृत्य करते दिखाई दे रहे हैं। दोनों हाथों को हवा में उठाकर वह एसडीआरएफ के जवानों की तरह थिरकने की कोशिश कर रहे हैं।

एक्स पर अर्नाल्ड ने लिखा, क्या आपने कभी सोचा है कि जब किसी को चोट नहीं पहुंची हो तो आपातकालीन प्रतिक्रियाकर्ताओं को कैसा महसूस होता है। उत्तराखंड एसडीआरएफ पुलिस बचाव इकाई के साथी मेरे साथ जुड़े क्योंकि हम सुरंग से अपने सफल बचाव का जश्न मना रहे हैं। इस संदेश के साथ अर्नाल्ड ने अपनी खुशी इजहार किया। एक्स पर संदेश के साथ अपलोड किया गया यह वीडियो 20 घंटे में 8,314 लोग पसंद कर चुके हैं। 1,410 लोगों ने इसे शेयर किया है। ढाई लाख से ज्यादा लोगों ने इसे देखा है।