आजमगढ़ में एसओ से बोले निरहुआ, धारा 302 में दर्ज करें मुकदमा, नहीं तो एसपी से करूं बात

- Advertisement -

*

– जहानागंज के अमदही गांव में बालक की हत्या के बाद पीड़ित परिजन से मिले निरहुआ

जहानागंज, आजमगढ़। भाजपा प्रत्याशी दिनेश लाल यादव निरहुआ गुरुवार को जहानागंज थाना क्षेत्र के अमदही गांव पहुंचे। जहां बीते दिनों पट्टीदारी विवाद में एक बालक की हत्या कर दी गई थी। मृत बालक के परिजनों से मिलकर दिनेश लाल यादव निरहुआ ने आश्वासन दिया। इस दौरान वे थानाध्यक्ष से फोन पर बात कर घटना की जानकारी ली और धारा 302 में मुकदमा दर्ज करने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि अगर आपसे नहीं हो रहा तो मैं एसपी से बात करूं?

- Advertisement -

अमदही गांव में बीते 1 जून को हुए पट्टीदारों के बीच विवाद में हुई हत्या कर दी गयी थी। पीड़ित के परिजनों द्वारा पुलिसिया कार्रवाई पर असंतोष व्यक्त किया गया। भाजपा प्रत्याशी निरहुआ द्वारा थाने पर फोन से बात करते हुए सुना गया जिसमें उन्होंने थानाध्यक्ष से कहा कि अगर आपसे नहीं हो पा रहा है तो एसपी से बात करूं या उससे भी ऊपर अगर बात करनी पड़ी तो करूंगा लेकिन पीड़ित को न्याय मिलना चाहिए।

इस दौरान मीडिया से रूबरू होते हुए उन्होंने कहा कि आजमगढ़ में आने का कारण मेरा सिर्फ इतना है कि जो लोग गुण्डागर्दी कर रहे हैं उनकी गुण्डागर्दी समाप्त करना, उन्होंने कहा कि जीतना हारना एक अलग चीज है पर किसी के साथ अगर अन्याय हो रहा है उसे न्याय मिलना चाहिए। निरहुआ ने गुरुवार को फिर अपनी बात दोहराते हुए कहा कि सरकार से दूर रहने का कहीं न कहीं खामियाजा आजमगढ़ को भुगतना पड़ता है। इसलिए आजमगढ़ की जनता ने यह ठान लिया है कि जो उनके आस-पास का हो उसे ही जिताया जाय, जिससे जनपद के लोगों को अपनी बात रखने में और अपने प्रतिनिधि से मिलने में दिक्कत का सामना न करना पड़ा साथ ही जनपद विकास हो सके।
सपा पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि आजमगढ़ की जनता ने समाजवादी पार्टी को जनपद की दसों विधानसभा सीट जीताकर दे दी है, लेकिन अगर शहर और गांव की सड़कों और गलियों में अगर चला जाय तो पता चल जाता है कि ये विधायक विकास के नाम पर क्या किये हैं और उल्टे आरोप लगाते हैं कि हम विपक्ष में हैं। सरकार हमारी कोई सुनवाई नहीं कर रही है। इसलिए जनता ने उनकी इस बात का जवाब देने के लिए और जनपद के विकास के लिए सरकार से जुड़ना चाहती है और भाजपा प्रत्याशी को वोट देकर जिताने के लिए तैयार बैठी है।