#Himachal Road Accident: 11 महीनों में 2025 सड़क हादसे, 795 लोगों ने गंवाई जान; हिमाचल प्रदेश परिवहन विभाग ने जारी किए आंकड़े#

- Advertisement -

प्रदेश में हर साल सड़क हादसों में हजारों लोग जान गंवाते हैं, तो कई ताउम्र अपंगता का दंश झेलते हैं। सड़क हादसों को कम करने के लिए परिवहन विभाग ने प्रदेशभर में सड़क सुरक्षा जागरूकता अभियान चलाया है।इसके तहत वाहन चालकों को यातायात नियमों का पाठ पढ़ाया जा रहा है। विभाग की यह मुहिम रंग लाई है। जनवरी से नवंबर महीने तक प्रदेश में सड़क हादसों में 7.53 फीसदी की कमी आई है जबकि हादसों में मरने वालों की तादात भी कम हुई है, इसमें 17.01 फीसदी की कमी आई है। हिमाचल प्रदेश परिवहन विभाग की ओर से जारी आंकड़ों में इसका खुलासा हुआ है।

प्रदेश एक पहाड़ी राज्य है
परिवहन विभाग की ओर से जारी बयान में कहा कि प्रदेश एक पहाड़ी राज्य है और यहां कठिन भौगोलिक स्थिति होने के कारण यहां की सड़कें भी घुमावदार है और आए दिन सड़क दुर्घटनाएं होने के कारण लोग अपना अमूल्य जीवन खो देते हैं। जनवरी से नवंबर माह तक आंकडों के विश्लेषण के अनुसार 2025 दुर्घटनाएं हुई हैं जिसमें 795 लोगों ने अपनी जान गंवाई है। 5159 लोग घायल हुए हैं। अगर हम इन आंकडों का विश्लेषण अगस्त 2022 से करें तो हमने यह पाया है कि दुर्घटनाओं में 7.53 फीसदी की कमी आई है और इन दुर्घटनाओं में मरने वालों की संख्या में भी 17.01 फीसदी की कमी आई है।

10 फीसदी की हो कटौती
परिवहन विभाग के निदेशक अनुपम कश्यप ने कहा कि सड़क दुर्घटनाओं की रोकथाम के लिए पुलिस और परिवहन विभाग हिमाचल प्रदेश, सड़क प्रयोगकर्ताओं व जनसाधारण को लगातार जागरूक कर रहा है। उन्होंने कहा कि यदि हम सड़क सुरक्षा नियमों का पालन करें और वाहन चलाते समय सावधानी बरतें और दोपहिया वाहन चलाते समय हेलमेंट का प्रयोग करें तो यह दुर्घटनाएं कम हो सकती है। विभाग के अनुसार सड़क दुर्घटनाओं में मरने वाले तथा घायल होने वाले लोगों की संख्या में 10 फीसदी तक की कटौती ला सकें। यह तभी संभव है यदि जन साधारण इसमें अपना सहयोग दें।

- Advertisement -