परिवार रोजी रोटी के लिए मुंबई में घर पर कब्जे की नीयत से दबंगों का उपद्रव, लेखपाल व पुलिस पर मिलीभगत का आरोप, मुंबई से आ पीड़ित ने लगाई SP से गुहार

- Advertisement -

शासन प्रशासन की लाख कोशिशों के बाद भी भूमाफियाओं और दबंगई से भूमि पर कब्जा करने वाले लोगों पर लगाम लगती नहीं दिख रही है। ऐसा ही एक मामला आजमगढ़ के मेंहनगर थाना के देवखरी में सामने आया है। मेंहनगर थाना के कटहन के मूल निवासी तथा वर्तमान में रोजी रोटी के सिलसिले में मुंबई में रहने वाले विजय गुप्ता व रामसुख गुप्ता ने SP से गुहार लगा कर अपने घर पर जबरन कब्जे के प्रयास में लगे दबंगों पर पाबंदी लगाने की गुहार लगाई है। पीड़ितों के अनुसार उन्होंने वर्ष 1989 में खरिहानी बाजार में 28 कड़ी जमीन बैनामा ली थी और घर दुकान बनवाया। मुंबई में रहने के चलते यहां पर वर्ष 2011 में उन्होंने देखभाल के लिए पूरा परिसर मंगल यादव को किराए पर दे दिया। पीड़ितों ने आरोप लगाया कि कुछ दिनों पहले से स्थानीय दबंग हरिद्वार सिंह, अरविंद सिंह, विनोद सिंह, गुड्डू सिंह समेत अन्य इस परिसर को अपनी भूमि पर बताते हुए कह रहे हैं कि तुम्हारी जमीन सड़क में चली गई है। स्थानीय लेखपाल और स्थानीय थाना पुलिस की मिलीभगत से दबंग जबरन कब्जा करने लिए तमाम धमकी संग उपक्रम करते रहते हैं। ऐसे ही एक दिन पूर्व 15 अगस्त को जब दुकान बंद थी तो नाम पर अपना पेंट करने के बादअपने नाम का पत्थर लगाने का प्रयास करने लगे। वहीं जब किरायेदार मंगल को पता चला तो भागा आया। इसपर उसको धमकी दी जाने लगी। उसकी सूचना पर पीड़ित मुंबई से फ्लाइट पकड़ कर तुरंत यहां पहुंचा और थाने पर गुहार लगाई लेकिन पुलिस ने भगा दिया।