#गोरखपुर में ‘कातिल’ हाथी ने फिर मचाया उत्पात, चार लोगों की जान ले चुका गंगाराम हुआ मदमस्त, महावत को पटका#

- Advertisement -

दो घटनाओं में चार लोगों की जान ले चुका हाथी गंगाराम एक बार फ‍िर मदमस्‍त हो गया है। शुक्रवार की भोर में विनोद वन में रखे गए गंगाराम ने महावत को पटक दिया। घायल महावत को बीआरडी मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया है। चिकित्सकों के अनुसार उसकी कमर की हड्डी टूट गई है। वह उसे जंजीर पहनाने की कोशिश कर रहा था। महावत की पहचान बड़हलगंज के साखूखोर के मुस्तकीन उर्फ मंगू के रूप में हुई। यह हाथी के मुख्य महावत मुस्तफा के मामा का लड़का है।
घटना के बाद डीएफओ विकास यादव के नेतृत्व में वन व‍िभाग, दमकल विभाग, पशु चिकित्सकों की टीम सह‍ित 15 महावत विनोद वन पहुंच चुके हैं। सुरक्षा को लेकर वन विभाग ने कुसम्ही जंगल को सील कर दिया है। कूड़ाघाट से रास्ते को ब्लाक कर दिया गया है। ऐसे में कुशीनगर की तरफ जाने वाले वाहनों को देवरिया मार्ग से होकर निकाला जा रहा है। हाथी को काबू करने के लिए वन विभाग की टीम उसे ट्रैंक्‍युलाइज करने की तैयारी कर रही है।
कलश यात्रा में बिदका था गंगाराम
इससे पहले 16 फरवरी, 2023 को मोहम्मदपुर माफी में कलश यात्रा के दौरान यह हाथी बिदक गया था और दो महिलाओं समेत तीन लोगों को मार दिया था। घटना की सूचना के बाद वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची और हाथी को पकड़कर 17 फरवरी को विनोद वन ले आई थी। यह हाथी इससे पहले भी एक जान ले चुका है। पशु चिकित्सकों की जांच में हाथी मदमस्त पाया गया था। इसके बाद ढाई महीने तक उसका उपचार किया गया।
व्यक्ति या आहट सुनते ही हो जा रहा आक्रामक
एक बार फिर मदमस्त होने से वह आक्रामक हो गया है। किसी भी व्यक्ति या आहट सुनकर वह आक्रामक हो जा रहा है। गुरुवार को उसने पैरों में बांधी गई जंजीर तोड़ दी थी। गुरुवार को उसके महावत मुस्तफा ने आवाज लगाई तो गंगाराम ने उसे दौड़ा ल‍िया था। डीएफओ विकास यादव ने बताया कि हाथी को काबू करने की कोशिश की जा रही है। उच्चाधिकारियों के निर्देश पर ट्रैंक्युलाइजर गन से बेहोश करने की तैयारी है।