#Divya Pahuja: दिव्या के पोस्टमार्टम में सामने आया अभिजीत की हैवानियत का सच, मिले चोट के निशान; आंख के ऊपर…#

- Advertisement -

गैंगस्टर संदीप गाड़ौली की गर्लफ्रेंड मॉडल दिव्या पाहुजा के शव का रविवार को मेडिकल कॉलेज अग्रोहा के शवगृह में पोस्टमार्टम किया गया। चार चिकित्सकों की टीम ने शव का पोस्टमार्टम किया। पोस्टमार्टम के दौरान मॉडल की आंख के पास से गोली के छर्रे बरामद हुए हैं।

शरीर पर चोट के निशान भी मिले हैं। वहीं, पुलिस की तरफ से विसरा के अलावा शरीर के कई अंग मधुबन की फोरेंसिक लैब में जांच के लिए भेजे जाएंगे। दिव्या के शव को उसके परिजनों को सौंप दिया गया है। देर रात गुरुग्राम के मदनपुरी श्मशान घाट में अंतिम संस्कार कर दिया गया।

गुरुग्राम क्राइम ब्रांच के इंस्पेक्टर ब्रह्म कुमार ने बताया कि मॉडल दिव्या पाहुजा के शव के पोस्टमार्टम के लिए चिकित्सक मनमोहन, संदीप, नीतू और संदीप की टीम बनाई गई। शरीर में गोली कहां पर फंसी है यह जानने के लिए पोस्टमार्टम से पहले शव का एक्सरे करवाया गया।

- Advertisement -

एक्सरे करवाने के बाद दोपहर दो बजे चिकित्सकों की टीम ने शव का पोस्टमार्टम शुरू किया। करीब पौने दो घंटे तक पोस्टमार्टम चला। पोस्टमार्टम के दौरान सामने आया कि मॉडल की आंख के ऊपर गोली मारी गई है। शरीर के अंदर से गोली के छर्रे भी बरामद हुए हैं।
11 दिन बाद मिला था शव
गुरुग्राम में होटल संचालक अभिजीत ने मॉडल दिव्या की हत्या की थी। उसके बाद उसके शव को पंजाब क्षेत्र में नहर में फेंक दिया था। पुलिस ने 11 दिन के बाद टोहाना नहर से दिव्या के शव को बरामद किया था। ड्यूटी मजिस्ट्रेट की निगरानी में शव को नहर से बाहर निकाला था। पुलिस पोस्टमार्टम के लिए शनिवार को शव मेडिकल कॉलेज अग्रोहा लेकर आई थी।
दिव्या पाहुजा के शव का रविवार को मेडिकल कॉलेज अग्रोहा के शवगृह में पोस्टमार्टम कराया गया। जिसके बाद शव उसकी बहन नैना को सौंप दिया गया। मृतका के माथे पर ही चोट का निशान मिला है। -शमशेर सिंह, डीएसपी, टोहना
बलराज गिल चार दिन के रिमांड पर
मॉडल दिव्या पाहुजा की हत्या के बाद उसके शव को ठिकाने लगाने वाले बलराज गिल को सीआईए 17 की टीम ने रविवार देर शाम ड्यूटी मजिस्ट्रेट के आवास परे पेश किया। जहां पर उसे चार दिन की पुलिस रिमांड पर लेकर हत्या से जुड़े मामले की छानबीन करेगी। पुलिस की ओर से उसे पांच दिन की रिमांड मांगी गई थी।

पुलिस ने मामले की छानबीन के लिए अदालत से हत्या के मुख्य आरोपी होटल मालिक अभिजीत के दोस्त बलराज गिल से आमना-सामना कराने के लिए, दस दिन फरारी के दौरान होटल सिटी प्वांइट से लेकर पटियाला, हिमाचल, राजस्थान, यूपी, वेस्ट बंगाल के ठिकानों की निशान देही कराना चाहती है।
वह जानना चाहती कि बलराज गिल ने दस दिन के 3000 किमी के सफर की जो कहानी बतायी है वह सत्य है अथवा वह पुलिस को गुमराह कर रहा है। बता दें कि दो जनवरी की शाम पांच बजे मॉडल दिव्या पाहुजा की हुई हत्या के बाद उसके शव को रात 11 बजे होटल के बाहर से ले जाकर उसने भाखड़ा नहर में फेंका था। उसकी गिरफ्तारी कोलकता के एयरपोर्ट से हुई है।
नहर से बरामद हुआ मॉडल दिव्या पाहुजा का शव
आपको बता दें कि गैंगस्टर संदीप गाडौली की गर्लफ्रेंड मॉडल दिव्या पाहुजा की हत्या के 11 दिन बाद शनिवार को उसका शव फतेहाबाद में टोहना के पास नहर से बरामद हुआ है। दिव्या का शव नहर में कुदनी हेड के पास अटक गया था। शरीर पर बने दो टैटू से दिव्या के शव की पहचान हुई है।

शव को ड्यूटी मजिस्ट्रेट की निगरानी में नहर से बाहर निकाला गया। मेडिकल बोर्ड से शव का पोस्टमार्टम कराया जाएगा। उधर, इस हत्याकांड की जांच कर रही एसआईटी ने अभिजीत के पीएसओ प्रवेश को भी गिरफ्तार कर लिया। प्रवेश पर अभिजीत को अवैध हथियार उपलब्ध कराने का आरोप है। दिव्या हत्याकांड में अब तक यह छठी गिरफ्तारी है।

बलराज ने मुनक के पास नहर में फेंका था शव
कोलकाता हवाई अड्डे से गिरफ्तार करने के बाद पुलिस टीम ने आरोपी बलराज गिल से दिव्या के शव के बारे में पूछताछ की तो उसने बताया कि शव को संगरूर जिले में मुनक के पास नहर में फेंका गया था। इसके बाद पुलिस टीम ने इसकी जानकारी गुरुग्राम के वरिष्ठ अधिकारियों को दी। गुरुग्राम पुलिस ने शव की तलाश में जुटी अपनी टीम और पंजाब पुलिस से यह जानकारी साझा की।

मुनक से होते हुए यह नहर टोहना से होकर गुजरती है। ऐसे में पुलिस ने एनडीआरएफ टीम के साथ शुक्रवार से ही शव की तलाश इस नहर में कर दी थी। इसके साथ ही नहर में पानी को बंद करा दिया गया था। इसी टीम को शनिवार सुबह करीब दस बजे टोहना में कुदनी हेड के पास दिव्या का शव मिला। जोकि फूलकर पानी के ऊपर आ गया था।